सीयूएसबी की 'टीम स्माइल' ने मनाया दूसरा स्थापना दिवस

दक्षिण बिहार केंद्रीय विश्वविधयालय (सीयूएसबी) के विद्यार्तियों द्वारा गठित छात्र प्रकोष्ठ "टीम स्माइल" दूसरा स्थापना दिवस मनाया I  इस आयोजन में टीम ने अलग अलग दिनों में कलेर और पुलिस लाइन के स्लम में गर्म कपडे बांटे और अन्य पिछड़े वर्ग हेतु बनाये गए उच्च विद्यालय में निबंध एवं क्विज की प्रतियोगिता करके बच्चो को प्रोत्साहित किया I टीम ने प्रतियोगिता में जीते विद्यार्तियों को को विस्वविद्यायलय में पुरुस्कार बंटे एवं  उनका उत्साह वर्धन कियाI कार्यक्रम की शुरुआत OBC +२ हाई स्कूल क प्रधानाचार्य रविंद्र प्रसाद एवं विद्यालय के अध्यापक एस एन सिंह, विश्वविद्यालय के प्रोफ एस एन सिंह, प्रोफ कौसल किशोर, डॉ. प्रणव कुमार एवं डॉ पारिजात प्रधान द्वारा डीप प्रज्वलित करके हुईI उसके बाद टीम क मेंबर अमन सागर  ने पावर पॉइंट क माद्यम से सभी को टीम स्माइल एवं टीम के दो सालो के कामों को बतायाI उनके बाद टीम के अध्यक्ष किसलय कीर्ति ने टीम की दो वर्षों की मेहनत को लोगो के बिच साझा किया I उन्होंने बताया की टीम ने शिक्षा में परेशानी को समझा और शिक्षा को रोचक बनाने केलिए टीम क प्रयासों को बतया I उन्होंने एजुकेशन बियॉन्ड पेन एंड पेपर के बारे में सभी को समझाया I

उसके बाद टीम के मेंटर डॉ. प्रणव कुमार ने समाज के प्रति हमारे दायित्वा को अंकित करते हुए बताय के समाज ने हमें बनाया है जो शिक्षा,भोजन, और ज्ञान समाज ने हमें दे कर हमें बनाया है वो ज्ञान, शिक्षा, भोजन कैसे हम समाज को दे सकते है I  उन्होंने सभी के साथ टीम को आगे ले जाने की बात की और कहा के टीम को टीम के राजनीतिकरण से बचाना होगा I उन्होंने स्कूल क बच्चों को अंकों  के  पीछे बग्ने क बजाय समझ  को विक्सित  करने का अनुरोध किया और चरित्र निर्माड की बात की I

आगे स्कूल के प्रधानाचार्य श्री रविंद्र प्रसाद अपनी बात कहते हुए बच्चो को उनके भविष्य के प्रति सत्रक रहने का अनुरोध किया और कहा क मानव कर्म  ही हमेसा उसे अमर बनता है , उन्होंने कहा क वो और उनके विद्ययालय क बच्चे बहुत खुस है क टीम ने उन्हें मौका दिया और ऐसी प्रतियोगिता कराईI  उन्होंने कहानी के माध्यम से बताया कीमेहनत करने का कोई दूसरा रास्ता नहीं है और हमें मेहनत करने से कभी पीछे नहीं हटना चाहिएI  शिक्षक होने पे गर्व जाहिर कियाI

प्रोफ्फ एस एन सिंह ने टीम के कार्यों कैंसरः और कहा टीम के प्रयासों ने सिर्फ टीम का ही नहीं बल्कि विश्वविद्यालय का भी नाम हुआ हैI  प्रोफ्फ कौशल किशोर ने डॉ. प्रणव के टीम के लिए अथक प्रयासों को सराहा उन्होंने टीम की बेहतरी के लिए कई सुझाव दिए और कहा के  टीम को ऐसे काम करने चाहिए के पिछड़े वर्ग के बच्चे खुद को अलग न समझे और कान्वेंट और अच्छे स्कूल क बच्चों के बराबरी कर पाएं I डॉ. पारिजात प्रधान ने बताया की कुशलता विक्सित कर लेना ही हमारा उद्देश्य नहीं होना चाहिए कुशलता को बाँटना सीखना चाहिए, उन्होंने विद्यार्थियों के लक्षणों को समझाया और कर्म को प्रधान रखने की सलाह दी I डॉ. कविता ने बच्चों को बताया किहमे सिर्फ जॉब क लिए नहीं पढ़ना चाहिए बल्कि संतोष के लिए पड़ना चाहिए और हमें इ लसक्या बना के पढाईको साकार करना चाहिएI 

अंत में अलग अलग दिनों में हुई निबंध एवं क्विज प्रतियोगिता में जीते विध्यार्तीयों को प्राध्यापकों ने पुरुस्कार दे कर उनका हौसला अफजाई किया I निबंध प्रतियोगिता में में दीपा कुमारी और प्रियंका राणे (कक्षा ११) ने क्रमशा पहला और दूसरा स्थान प्राप्त  किया गुड़िया कुमारी(कक्षा ९) ने तीसरा स्थान सुनिश्चित किया* क्विज दो ग्रुप में हुई ग्रुप a  में प्रियांशी कुमारी (कक्षा ११) प्रिय कुमारी कक्षा १०)निशा (कक्षा १०) ने प्रथम स्थान प्राप्त किया और सीटी कुमारी , प्रिन्सी कुमारी, शानू प्रिय (सभी कक्षा १०) ने दूसरा स्थान पाया I

 

Quick Links

आज का सुविचार

चरित्रवान व्यक्ति अपने पद और शक्ति का अनुचित लाभ नहीं उठाते।

Campus

SH-7, Gaya Panchanpur Road, Village – Karhara, Post. Fatehpur, Gaya – 824236 (Bihar)

Contact

Phone: 0631-2229507
Admission:0631-2229511

 

Connect with us

We're on Social Networks. Follow us & get in touch.

Visitor Hit Counter :

6186663 Views

Search