सीयूएसबी के छात्राओं ने एनसीसी के डायरेक्टरेट स्तर की प्रतियोगिता में मारी बाज़ी

सीयूएसबी के छात्राओं ने एनसीसी के डायरेक्टरेट स्तर की प्रतियोगिता में मारी बाज़ी शहीदों की मजारों पर लगेंगे हर बरस मेले, वतन पर मरने वालों का यही बाकी निशां होगा, कभी वह दिन भी आएगा जब अपना राज देखेंगे, जब अपनी ही जमीं होगी और अपना आसमां होगा !… कारगिल की लड़ाई में अपने प्राणों की आहुति देकर देश के सीमा की संप्रभुता की रक्षा करने वाले वीर सपूतों को आज के यूवाओं के प्रेरणास्रोत्र बनाने के उद्देश्य से राष्ट्रिय कैडेट कोर (एनसीसी) ने एक डायरेक्टरेट स्तर (राजस्तरीय) प्रतियोगिता का आयोजन किया | इस प्रतियोगिता में दक्षिण बिहार केन्द्रीय विश्वविद्यालय की एनसीसी से जुड़ी छात्राओं ने विजय दिवस के अवसर पर आयोजित विशेष प्रतियोगिता में भाग लिया | विवि की छात्राएं आस्था सिन्हा एवं कृतिका सिंह ने एनसीसी असिस्टेंट नोडल अफसर (एएनओ) एवं सहायक प्राध्यापिका डॉ० प्रज्ञा गुप्ता के मार्गदर्शन में प्रतियोगिता में हिस्सा लिया |

 

छात्राओं ने शहीदों की याद में आयोजित प्रतियोगिता में उत्कृष्ट प्रदर्शन देते हुए प्रतियोगिताएं में जीत हासिल की जिसपर माननीय कुलपति प्रोफेसर हरीशचन्द्र सिंह राठौर, कुलसचिव कर्नल राजीव कुमार सिंह एवं डीन स्टूडेंट्स वेलफेयर प्रोफेसर आतिश पराशर ने उन्हें और उनके अभिभावक प्राध्यापिका डॉ० प्रज्ञा गुप्ता की सराहना करते हुए बधाई एवं शुभकामनाएं दी है |  इस संबंध में ज़्यादा जानकारी देते हुए डॉ० प्रज्ञा गुप्ता ने बताया कि प्रतियोगिता में बिहार-झारखंड के  डायरेक्टरेट से 80 कैडेट्स  एवं 20 एएनओ  ने हिस्सा लिया।  इसके प्रतियोगिता के तहत कविता पाठ, पेंटिंग, क्विज इत्यादि कार्यक्रम आयोजित किये गए।  कार्यक्रम का आयोजन ऑनलाइन किया गया जिसमें सभी प्रतिभागी ऑनलाइन उपस्थित होकर इस कोरोना काल मे कोरोना के डर को धत्ता बताते हुए सभी ने अलग अलग श्रेणी में अपनी प्रस्तुति दी। 27 बिहार बटालियन की कैडेट और सीयूएसबी की छात्रा कृतिका को कविता पाठ के लिए प्रथम पुरस्कार एवं आस्था कुमारी को उनके पेंटिंग के लिए द्वितीय पुरस्कार प्राप्त हुआ।  उन्होंने बताया कि कोरोना के कारण उपजी इस विषम परिस्थिति में भी छात्राओं का जज्बा बुलंद है इसलिए उनका प्रदर्शन अच्छा रहा है। दरअसल ये राष्ट्रीय कैडेट कोर के संस्कार हैं जो छात्रों में विषम परिस्थिति से लड़ने और जीतने का ज़ज़्बा पैदा करता है। वहीँ राज्य के  विभिन्न प्रांतों से बालिकाओं ने प्रतियोगिता में भाग ले कर ये सिद्ध कर दिया कि शहादत का ज़ज़्बा बालिकाओं में भी उतना ही है जितना पुरुषों में। राष्ट्रीय कैडेट कोर, 27 बिहार बटालियन के सीओ कर्नल दीप कौशिक ने कैडेट्स को बधाई देते हुए कहा कि एक बार छात्र सफलता का स्वाद चख लें तो वो अपने प्रयासों को और धार दे सकते हैं। दूसरी तरफ जीत हासिल कर विश्वविद्यालय एवं अपनी बटालियन का नाम रौशन करने वाली छात्रा कृतिका और आस्था ने कहा कि अगर मौका मिला तो वो आगे भी राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिताओं में बेहतर प्रदर्शन कर अपने विश्वविद्यालय और बटालियन का रौशन करेंगी।

Campus


SH-7, Gaya Panchanpur Road, Village – Karhara, Post. Fatehpur, Gaya – 824236 (Bihar)

Contact


Reception: 0631 - 2229 530
Admission: 0631 - 2229 514 / 518
                        - 9472979367

 

Connect with us

We're on Social Networks. Follow us & get in touch.

Visitor Hit Counter :

18655851 Views

Search