जल प्रबंधन के लिए आम नागरिकों की भागीदारी आवश्यक| प्रोफेसर वी. सुभ्रमनियन

 

अगर देश और विश्व को लगातार बढ़ रही जल की समस्या से निदान निकालना है तो आम नागरिकों की भागीदारी बहुत ज़रूरी है ! लगातार धरती के घट रहे जलस्तर की समस्या के साथ - साथ जल प्रदुषण भी एक बहुत बड़ा चिंता का विषय है ! इसलिए इन समस्याओं का हल निकालने के लिए जल प्रबंधन एक बहुत सटीक उपाय है जिसमें  विज्ञान एवं वैज्ञानिकों के साथ समाज और नीतियों के समावेश की भी आवश्यकता है ! ये बातें प्रोफेसर वी० सुभ्रमनियन ने दक्षिण बिहार केन्द्रीय विश्वविद्यालय (सीयूएसबी) के पर्यावरण विज्ञान विभाग के तत्वाधान में 14 अक्टूबर 2019 को आयोजित विशेष व्याख्यान में दी !  जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के पर्यावरण विज्ञान विभाग में पूर्व डीन के रूप में कार्यरत  प्रो. वी. सुभ्रमनियन ने 'इश्यूज इन वाटर सेक्टर एंड हाइड्रोजियो केमिस्ट्री" विषय पर अपना व्याख्यान दिया ! 

 

प्रो. सुभ्रमनियन ने कहा कि भारत में मॉनसून में होने वाली वर्षा ही पानी का प्रमुख स्रोत है, खासतौर पर मॉनसून में होने वाली बारिश से देश की कृषि निर्भर है ! लेकिन मॉनसून की अवधि में जरा भी चूक होने से पानी संबंधी संकट जैसे बाढ़ या सूखा की स्थिति पैदा कर सकती है। उन्होंने मॉनसून में होने वाली गड़बड़ी का एक प्रमुख कारण जलवायु परिवर्तन है जिससे भविष्य में काफी दुष्प्रभाव हो सकते हैं। उन्होंने जल प्रदूषण की समझ को भी बड़ी सरलता से प्रस्तुत किया और कहा कि यह एक संदर्भ में व्याख्या की जाने वाली घटना है। मॉनसून की सटीक भविष्यवाणी हमें जल संबंधी कठिनाइयों एवं आपदाओं से बचा सकती हैं। उन्होंने विद्यार्थियों को ऐसे शोध करने के लिए प्रेरित किया जो सीधे समाज को फायदा पहुंचा सके। एक सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि नदी जोड़ परियोजना पारिस्थितिकी के दृष्टिकोण से सर्वोत्तम विकल्प नहीं है। इसे लागू करने से पूर्व गहन शोध और अध्ययन की जरूरत है।

 

कार्यक्रम की शुरुआत विभागाध्यक्ष  प्रो. उमेश कुमार सिंह ने स्वागत भाषण से किया। उनके साथ पर्यावरण विज्ञान विभाग के प्रो. राम कुमार, प्रो. सारथी, डॉ. राजेश रंजन, डॉ. प्रशांत एवं डॉ. एन. एल. देवी उपस्थित थे। साथ ही संकाय अध्यक्ष छात्र कल्याण प्रो. आतिश पराशर और प्रॉक्टर प्रो. कौशल किशोर के साथ - साथ बड़ी संख्या में शोधार्थी एवं विद्यार्थी मौजूद थे। कार्यक्रम के अंत में प्रो. राम कुमार ने धन्यवाद ज्ञापन प्रस्तुत किया।

 

Campus


SH-7, Gaya Panchanpur Road, Village – Karhara, Post. Fatehpur, Gaya – 824236 (Bihar)

Contact


Reception: 0631 - 2229 530
Admission: 0631 - 2229 514 / 518
                        - 9472979367

 

Connect with us

We're on Social Networks. Follow us & get in touch.

Visitor Hit Counter :

15038611 Views

Search